e-Magazine

पाकिस्तान में ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पांथिक कट्टरपंथियों का हमला दुर्भाग्यपूर्ण : अभाविप

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर पाकिस्तान के ननकाना साहिब में गुरुद्वारे पर पांथिक कट्टरपंथियों द्वारा किये गये हमले की कड़ी निंदा की है । विज्ञप्ति में जारी व्यक्तत्व में कहा गया है कि पाकिस्तान से लगातार धार्मिक रूप से अल्पसंख्यकों पर हो रही इस तरह की अत्याचार की घटनाएं सामने आ रही है, जो कि मानवता पर कलंक है । धार्मिक रूप से अल्पसंख्यकों पर जब हमले हो रहे हैं तो कथित मानवाधिकारवादियों तथा वैश्विक नेताओं की चुप्पी निराश करने वाली है तथा उसके मानवाधिकारवादी होने पर भी प्रश्न चिह्न लगाती है ।

अभाविप की राष्ट्रीय राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी ने कहा कि भारत के पड़ोसी देशों में जिस प्रकार से अल्पसंख्यकों पर हमले हो रहे हैं, वह पूरे विश्व के लिए अत्यंत चिंताजनक है । यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि पाकिस्तान जैसे इस्लामिक देश में लगातार धार्मिक अल्पसंख्यकों पर राज्य प्रायोजित हमले हो रहे हैं, इस प्रकार की दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति को रोकने के लिए जिम्मेदार वैश्विक नेताओं को आगे आना होगा और सबको साथ मिलकर अल्पसंख्यकों की आवाज बनकर मानवाधिकारों की रक्षा करना होगा ।

क्या है मामला –

शुक्रवार को पाकिस्तान के ननकाना साहिब में भीड़ ने सिखों के पवित्र स्थल ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पथराव कर दिया और सिखों के खिलाफ नारेबाजी की जिस कारण कारण  पहली बार गुरुद्वारे में भजन-कीर्तन रद्द करना पड़ा। बता दें कि ननकाना साहिब गुरू नानक का जन्मस्थान है, जो सिखों के पवित्रस्थल है ।  बताया जाता है कि मुस्लिम युवक के द्वारा सिख लड़की के साथ जबरन धर्मांतरण कर शादी के बाद विवाद बढ़ गया । शुक्रवार को मोम्मद हसन  जिस पर धर्मांतरण का आरोप है, उसकी अगुवाई में शुक्रवार को भीड़ ने ननकाना साहिब गुरुद्वारे को घेर लिया । कुछ देर बाद गुरुद्वारे के मुख्य प्रवेश द्वार पर पथराव करना शुरू कर दिया । दरवाजा बंद होने पर गुरुद्वारे के भीतर भी पत्थर फेंके गये, प्रदर्शनकारियों ने धमकी भी दी कि शहर का नाम बदलकर गुलाम – ए- मुस्तफा कराएंगे । कोई सिख ननकाना में नहीं रहेगा।  प्रदर्शन और पथराव के कारण गुरुद्वारे के आसपास की दुकानें बंद हो गईं एवं  गुरुद्वारे में मौजूद संगत डरकर प्रदर्शनकारियों के जाने के बाद भी काफी देर तक वहीं बैठी रही। पुलिस के आने के बाद संगत वहां से निकली। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

READ  ABVP's National Executive Council meeting and State Abhyas Vargs Cancelled ABVP's education-related helpline and service work will continue
×
shares