e-Magazine

झांसी : एसएफआई के विरुद्ध अभाविप का जोरदार प्रदर्शन, सिद्धार्थन मामले की हो निष्पक्ष जांच

छात्रशक्ति डेस्क

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कानपुर प्रांत के झांसी महानगर में केरल के वायनाड स्थित वेटनरी एंड एनिमल साइंस यूनिवर्सिटी के छात्र सिद्धार्थन को बुरी तरह प्रताड़ित कर आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले दोषियों पर कठोर कार्रवाई की मांग को लेकर जोरदार प्रदर्शन किया गया। अभाविप ने कहा एसएफआई के गुंडों ने एक होनहार छात्र को जान से हाथ धोने के लिए मजबूर कर दिया। अभाविप यह मांग करती है ऐसे खूनी हिंसक एसएफआई के गुंडों पर ऐसी कठोर कार्रवाई हो ताकि भविष्य में किसी और सिद्धार्थन को जान नहीं गंवाना पड़े।

केरल के शैक्षणिक संस्थानों में सत्ताधारी पार्टी सीपीएम के संरक्षण में उसके छात्र संगठन स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) से जुड़े अपराधियों द्वारा लगातार हिंसा, भ्रष्टाचार, छेड़खानी की घटनाओं में कार्रवाई से पीछे हटने की विफलता पर अभाविप ने केरल सरकार की कड़ी निन्दा तथा भर्त्सना की है।

कानपुर प्रांत की प्रांत मंत्री शिवा राजे बुंदेला ने कहा कि वामपंथी छात्र संगठन एसएफआई का लंबा आपराधिक इतिहास रहा है। केरल के शैक्षणिक परिसर सीपीएम संरक्षित अपराधियों की हिंसक गतिविधियों का अड्डा बन गए हैं। केरल में सिद्धार्थन के साथ एसएफआई से जुड़े अपराधियों द्वारा जघन्य रैगिंग के परिणामस्वरूप आत्महत्या मामले ने एसएफआई तथा वामपंथी छात्र संगठनों से शैक्षणिक संस्थानों को खतरे को पुनः उजागर कर दिया है। केरल के शैक्षणिक परिसरों में हो रहे आपराधिक कृत्यों में संलिप्तता से एसएफआई का हिंसक इतिहास पुनर्रेखांकित हो रहा है। आम विद्यार्थी इन वामपंथी गुंडों को कड़ा जवाब देंगे। विद्यार्थी परिषद, शैक्षणिक संस्थानों में ऐसे आपराधिक गतिविधियों का कड़ा विरोध करेगी।

READ  डूसू चुनाव के एक दिन पहले डीसीएसी में अभाविप ने लहराया जीत का परचम

प्रांत सह मंत्री चित्रांशु सिंह ने कहा कि, अभाविप देश भर के अलग-अलग शैक्षणिक परिसरों में केरल के छात्र जेएस सिद्धार्थन की आत्महत्या के विरुद्ध आवाज उठा कर न्याय की मॉंग कर रही है। यह घटना अत्यंत शर्मनाक तथा दुर्भाग्यपूर्ण है। स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के गुंडे लगातार अपनी हिंसात्मक गतिविधियों से शैक्षणिक परिसरों के स्वच्छ और स्वस्थ माहौल को दूषित करने का काम कर रहे हैं। केरल सरकार के संरक्षण में एसएफआई शैक्षणिक परिसरों में लोकतंत्र को खत्म करके अराजकता एवं गुंडागर्दी के माहौल को बढ़ावा दे रही है। एबीवीपी मॉंग करती है कि सिद्धार्थन के परिजनों को शीघ्र न्याय मिले तथा एसएफआई के गुंडों पर लगाम लगाने के लिए कड़ी कार्रवाई की जाए।

×
shares