e-Magazine

सिवान : ग्रामीण स्तर के बच्चों की पढ़ाई के लिए अभाविप ने शुरू की ”परिषद की पाठशाला”

छात्रशक्ति डेस्क

सिवान (बिहार)। कोरोना महामारी ने जनजीवन के साथ – साथ शिक्षा को भी बुरे तरीके से अस्त – व्यस्त कर दिया है। कोरोना महामारी के कारण सभी स्कूल – कॉलेज बंद है । बच्चे घर पर पढ़ाई तो करते हैं लेकिन उसे उचित मार्गदर्शन नहीं मिल पा रहा है। ग्रामीण इलाकों के बच्चों की स्थिति तो और भी बुरी है।  ग्रामीण स्तर के बच्चों के पास ना तो स्मार्टफोन है और ना ही उनके घर में टेलीविजन की व्यवस्था है इस कारण से बच्चे अपनी पढ़ाई सही तरीके से नहीं कर पा रहे हैं। और उनका ध्यान पढ़ाई से हटकर पूरी तरह से केवल खेलकूद में निकल रहा है। ऐसे में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सिवान (बिहार) इकाई के कार्यकर्ताओं ने एक अनोखी पहल शुरू की है।

अभाविप के कार्यकर्ताओं ने बताया कि हमलोगों ने सोचा कि पूरे स्कूल के बच्चों को तो हम नहीं पढ़ा सकते लेकिन अगर हम कम से कम अपने  मोहल्ले या नगर के बच्चों को बैठाकर पढ़ाना शुरू करें तो बच्चे पढ़ाई से वंचित नहीं रहेंगे। यह सोच कर प्रदेश में बात किया गया और वहां से अनुमति मिलने के बाद में हमने 10 से 15 बच्चों को शारीरिक दूरी एवं मास्क का ध्यान रखते हुए उन्हें पढ़ाने का प्रयास किया।

READ  जेएनयू प्रवेश परीक्षा के लिए अभाविप ने शुरू की निशुल्क कोचिंग
×
shares