e-Magazine

ओड़िशा : चक्रवात ‘फेनी’ से उजड़े परिवारों की मदद के लिए आगे आया परिषद्

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् ने देश भर के लोगों के बीच ओड़िशा के प्रभावितों खासकर छात्रों की मदद के लिए लिए अभियान शुरू किया है, इस अभियान के माध्यम से अभाविप के कार्यकर्ता कलम, नोटबुक, किताबें, बैग आदि एकत्रित कर उसे ओड़िसा के छात्रों के बीच पहुंचाने का काम कर रही है । साथ ही, अभाविप ओड़िशा के द्वारा एक बैंक खाता नंबर भी जारी किया गया है, जिसमें सहयोग राशि जमा की जा सकती है । परिषद् ने ओड़िशा राज्य में चक्रवात फनी से प्रभावित छात्रों की मदद के लिए देशभर में में धन संग्रह अभियान चलाया। अभाविप के राष्ट्रीय महामंत्री आशीष चौहान ने कहा कि फेनी चक्रवात के कारण उड़ीसा में 5000 शिक्षण संस्थान बर्बाद हो गए जिनकी वजह से वहां के छात्रों की शिक्षा व्यवस्था अस्त-व्यस्त हो गई। इस को ध्यान में रखते हुए विद्यार्थी परिषद ने पुरी एवं भुवनेश्वर जैसे क्षेत्रों के लिए देशभर के छात्रों को जोड़ते हुए राहत कार्य के लिए अभियान चलाने का निर्णय लिया है।

अभाविप इकट्ठा धनराशि का उपयोग छात्रों की मदद के लिए करेगी । अभाविप के राष्ट्रीय महामंत्री आशीष चौहान ने कहा है कि विद्यालयों में नए सत्र शुरू हो चुके हैं, इसलिए यह सुनिश्चित करना बेहद जरूरी है कि ओड़िशा के विद्यालयों की पढ़ाई जल्द से जल्द पटरी पर लौटे, साथ ही उच्च शिक्षा हासिल कर रहे छात्र अपनी वार्षिक परीक्षा पर ध्यान केन्द्रित कर सके इसके लिए यथासंभव प्रयास किये जाएं । अभाविप अपने अभियान के माध्यम से एक लाख छात्रों को मदद करेगी । श्री चौहान ने केन्द्र और राज्य सरकार से मांग की है कि फेनी से प्रभावित राज्यों में पुनर्वास के लिए प्रयास तेज हों ।

Bank – State Bank of India
A/C No. – 33395013232
Name – Akhil Bharatiya Vidyarthi Parishad ( ABVP) Odisha Relief
IFSC CODE – SBIN0012025
Branch – Sashtri Nagar, Bhubaneshwar

अभाविप के कार्यकर्ताओं ने ओडिशा में फेनी प्रभावित उच्च शिक्षा संस्थानों में चलाया कैम्पस सफाई अभियान

READ  ABVP delegation submitted a memorandum Tamil Nadu Governor to get justice for Lavanya

ओडिशा के विनाशकारी चक्रवात फेनी से प्रभावित इलाकों में परिषद् के कार्यकर्ताओं ने जाकर सफाई करना शुरू कर दिया । प्रियंका प्रियदर्शनी मल्लिक ने कहा कि वे पुरी और खुर्दा सहित प्रभावित जिलों में शैक्षणिक संस्थानों पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने इस संबंध में 5-दिवसीय अभियान चलाया है और कटक, भुवनेश्वर और पुरी के सभी उच्च शिक्षा संस्थानों के परिसर की सफाई शुरू कर दी है। मल्लिक ने आगे कहा कि वे सरकारी सहायता की प्रतीक्षा नहीं कर रहे हैं और जनता की सेवा के लिए स्वयं काम कर रहे हैं । ओडिशा में चक्रवात फानी के पीड़ितों के लिए अभाविप  डोईमुक यूनिट, अरुणाचल प्रदेश के करायतकार राहत कोष इकट्ठा कर रहे हैं। स्थानीय लोगों द्वारा दिखाया गया भारी समर्थन और उदारता विविध देश में अंतर्निहित एकता की पुष्टि करता है।

×
shares