e-Magazine

अभाविप ने शुल्क में छूट की मांग को लेकर केन्द्रीय शिक्षा मंत्री को सौंपा ज्ञापन

छात्रशक्ति डेस्क

नई दिल्ली। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद(अभाविप) ने कोरोना रूपी वैश्विक महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुए केन्द्रीय शिक्षा मंत्री से छात्रों को शुल्क में छूट देने की मांग को लेकर बुधवार को केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ को ज्ञापन सौंपा। अभाविप ने सरकारी व निजी प्राथमिक तथा उच्च कुछ शैक्षणिक संस्थानों में इस सत्र में हुई शुल्क वृद्धि को वापस करने की मांग करते हुए, पूर्व निर्धारित शुल्क में छूट देने की मांग की है। अभाविप ने पारंपरिक शिक्षण तथा ऑनलाइन शिक्षण में संसाधनों के उपयोग आदि के अंतर को बताते हुए शिक्षा शुल्क कम करने, तालाबंदी के समय का छात्रावास शुल्क नहीं लेने तथा छूट के बाद निर्धारित शुल्क को किश्तों में लेने  जैसी आदि मांगों की शीघ्र पूरा करने की मांग शिक्षा मंत्री से की है।

ध्यान हो कि अभाविप ने राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालयों के शुल्क के संबन्ध में एक ज्ञापन विधि एवं न्याय मंत्रालय को भी प्रेषित करते हुए शुल्क कम किए जाने हेतु शीघ्र निर्णय लेने का अनुरोध किया है। अभाविप ने अपने ज्ञापन में लॉकडाउन के चलते लोगों के सामने आई आर्थिक समस्या का बिंदु प्रमुखता से रखा है तथा शैक्षणिक संस्थानों में शुल्क आदि मुद्दों पर उदार रवैया अपनाने का आग्रह किया है जिससे छात्रों की समस्याएं कम हो सकें।

अभाविप की राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी ने कहा कि, “देश में आईआईएम, एनआईटी, पॉलिटेक्निक कॉलेजों, निजी विद्यालयों तथा महाविद्यालयों में कुछ संस्थाओं में शुल्क वृद्धि की गई है। जब आम जनमानस के सामने तालाबंदी के चलते आर्थिक तंगी है तब इस प्रकार की अमानवीयता असहनीय नहीं है, अभाविप का पंजाब यूनिवर्सिटी सहित अन्य स्थानों  पर शुल्क वृद्धि के विरुद्ध आंदोलन पहले से ही चल रहा है, सरकार द्वारा छात्रों की शुल्क संबंधी समस्याओं का शीघ्र निदान किया जाना चाहिए।

READ  Investigate TMCP’s Role in Vidyasagar College Hooliganism Incident: ABVP
×
shares