e-Magazine

विश्वविद्यालय खोलने की मांग को लेकर अभाविप का प्रदर्शन, डीयू में बढ़ते पुलिस हस्तक्षेप पर रोक लगाने की मांग

छात्रशक्ति डेस्क

नई दिल्ली। कोरोना के कारण बंद पड़े महाविद्यालय/ विश्वविद्यालय को पुनः खोलने, कक्षा शुरू करने इत्यादि की मांग को लेकर गुरुवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) प्रशासन के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन, दिल्ली विश्वविद्यालय के दक्षिणी परिसर (नार्थ कैंपस) में आयोजित किया गया था, जिसमें डीयू से संबद्ध महाविद्यालयों के छात्रों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। प्रदर्शनकारी छात्रों ने बताया कि हमलोग विभिन्न मांगों को लेकर शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान दिल्ली पुलिस ने अनावश्यक रूप से हस्तक्षेप करते हुए हमलोगों के साथ धक्का मुक्की की तथा अलोकतांत्रिक व अमर्यादित व्यवहार किया। अभाविप ने कहा कि यदि दिल्ली पुलिस कैंपस पुलिसिंग बंद नहीं करती तो छात्रों के नेतृत्व में पुलिस थानों का घेराव किया जाएगा।

डीयू प्रशासन के खिलाफ नार्थ कैंपस में प्रदर्शन करते छात्र
डीयू प्रशासन के खिलाफ नार्थ कैंपस में प्रदर्शन करते छात्र

अभाविप, दिल्ली के प्रदेश मंत्री सिद्धार्थ यादव ने कहा कि छात्रों को अधिक से अधिक विकल्प मिलने चाहिए । बड़ी संख्या में बाहरी छात्र अब दिल्ली वापस आ चुके हैं, उन्हें  पुस्तकालय समेत अन्य सुविधा न होने के कारण काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि छात्र अपनी शंकाओं का समाधान ऑनलाइन माध्यम से नहीं कर पा रहे हैं। चूंकि अब स्थिति लगभग सामान्य हो गई है इसलिए परिसर को शीघ्रातिशीघ्र खोला जाना चाहिए। हमने आज प्रदर्शन के उपरांत दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन के समक्ष छात्रों की मांगें रखी हैं, कई मांगों पर प्रशासन का सकारात्मक जवाब आया है। छात्रों को चरणबद्ध तरीके से वापस बुलाया जाना चाहिए। आज के शांतिपूर्ण प्रदर्शन में दिल्ली पुलिस ने छात्रों के साथ धक्का-मुक्की करना दुर्भाग्यपूर्ण है।

READ  आपातकाल की कुछ यादें

प्रदर्शन के उपरांत अपनी मांगों को लेकर छात्रों का प्रतिनिधिमंडल डीयू प्रशासन से मिला । प्रशासन ने छात्रावास में छात्रों को गेस्ट बेसिस पर रूकने की अनुमति देने,प्रथम वर्ष के छात्रों को मार्च में प्रस्तावित उनकी परीक्षाओं के उपरांत अप्रैल से स्थायी रूप से रूकने की व्यवस्था तथा छात्रावासों में पारदर्शी केन्द्रीकृत प्रवेश व्यवस्था करने , परिसर (कैंपस) खोलने का दूसरा चरण शुरू करने , ई-लाइब्रेरी मार्च से शुरू करने , पुस्तकालय को 12 घंटे खोलने आदि मांगे पूरी किए जाने का आश्वासन दिया है।

प्रमुख मांगें

डीयू में अभाविप के नेतृत्व में प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने दिल्ली विश्वविद्यालय कैंपस को खोल ऑफलाइन कक्षाओं का विकल्प देने, त्वरित रूप से अंतिम वर्ष के छात्रों की अनिवार्य ऑफलाइन कक्षाएं शुरू करने, परीक्षा देने हेतु ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड का छात्रों को विकल्प देने, डीयू के कॉलेजों , विभागों आदि के सभी पुस्तकालयों को खोलने तथा कम से कम 12 घंटे पुस्तकालय सुविधा उपलब्ध कराने, अनावश्यक पुलिस एंट्री कैंपस में निषेध करने , कोविड के कारण परीक्षा नहीं पास कर सकने वाले छात्रों को एक और विकल्प देने, सभी परीक्षा परिणाम शीघ्र घोषित करने, स्नातक तथा स्नातकोत्तर के सभी छात्रावासों को जल्दी से जल्दी खोलने तथा स्नातकोत्तर छात्रावासों के लिए केन्द्रीकृत प्रवेश प्रक्रिया सुनिश्चित करने आदि मांगे प्रशासन के समक्ष रखी हैं।

×
shares