e-Magazine

जबलपुर में होगा अभाविप का 67 वां राष्ट्रीय अधिवेशन

छात्रशक्ति डेस्क

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का 67 वां राष्ट्रीय अधिवेशन जबलपुर में होगा, जिसका शुभारंभ 24 दिसंबर को होगा एवं समापन 26 दिसंबर को होगा। तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन में देश भर के छात्रों का समागम होगा या कहें लघु भारत का दर्शन होगा। अधिवेशन की तैयारी जोर शोर से हो रही है। संचालन समिति, स्वागत समिति, व्यवस्था इत्यादि की बैठकें आयोजित की जा रही है।

अभाविप के 67 वें राष्ट्रीय अधिवेशन का लोगो लोकापर्ण करते अभाविप के राष्ट्रीय सह-संगठन मंत्री प्रफुल्ल आकांत, क्षेत्रीय संगठन मंत्री चेतस सुखाड़िया व अन्य
अभाविप के 67 वें राष्ट्रीय अधिवेशन का लोगो लोकापर्ण करते अभाविप के राष्ट्रीय सह-संगठन मंत्री प्रफुल्ल आकांत, क्षेत्रीय संगठन मंत्री चेतस सुखाड़िया व अन्य

पिछले दिनों जबलपुर में आयोजित एक बैठक में अभाविप के 67 वें राष्ट्रीय अधिवेशन के लोगो को लोकार्पित किया गया, लोगों लोकार्पण के कार्यक्रम में अभाविप के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री प्रफुल्ल आकांत, क्षेत्रीय संगठन मंत्री चेतस सुखाड़िया सहित प्रदेश पदाधिकारी मौजूद थे।

67 वें राष्ट्रीय अधिवेशन के निमित्त स्वागत समिति बैठक को संबोधित करते अभाविप के राष्ट्रीय संगठन मंत्री आशीष चौहान, मंचासीन अभाविप पदाधिकारी व अन्य

अधिवेशन कार्यालय का शुभारंभ भी हो चुका है। हाल में ही स्वागत समिति का बैठक भी संपन्न हुआ है जिसमें मुख्य रूप से अभाविप के राष्ट्रीय संगठन मंत्री आशीष चौहान, राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री प्रफुल्ल आकांत, श्रीनिवास, राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी प्रमुख रूप से उपस्थित थे। अभाविप के राष्ट्रीय अधिवेशन में अभाविप के शिल्पकार कहे जाने वाले प्रा. यशवंत राव केलकर की स्मृति में दिये जाने वाले यशवंत राव केलकर युवा पुरस्कार दिया जायेगा। इस अधिवेशन में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन, स्वाधीनता के अमृत महोत्सव सहित शैक्षिक विषयों पर चर्चा होने की संभावना है। साथ ही, विभिन्न मुद्दों पर प्रस्ताव भी पारित होंगे। कोरोना के कारण सीमित संख्या में अभाविप का पिछला राष्ट्रीय अधिवेशन नागपुर में आयोजित किया गया था, जिसके मुख्य अतिथि रा.स्व.संघ के तत्कालीन सरकार्यवाह भय्या जी जोशी थे।

READ  China Virus - Indian experience, Midway through
×
shares