e-Magazine

#67thABVPConf : कैप्टन रमन बक्शी प्रदर्शनी का हुआ उदघाटन

छात्रशक्ति डेस्क

जबलपुर। अभाविप का 67वां राष्ट्रीय अधिवेशन  24 दिसम्बर से प्राम्भ होने जा रहा है जिससे पूर्व 23 दिसम्बर को आज अधिवेशन स्थल पर 1965 युद्ध में  वीरगति प्राप्त कैप्टेन रमन बक्शी के नाम से बनाई गई प्रदर्शनी का उदघाटन गुरुवार को हुआ, जिसमें अंतरिक्ष वैज्ञानिक डॉ शिव प्रकाश कोष्टा, विशेष ओलम्पिक की अध्यक्षा डॉ मल्लिका बैनर्जी नड्डा व विद्यार्थी परिषद की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रो श्रीमती मनु कटारिया अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। इस प्रदर्शनी के शुभारम्भ में केंद्रीय कार्यसमिति सदस्य व महानगर के आम जनमानस भी उपस्थित हुए व एक ही स्थान पर सम्पूर्ण भारत की संस्कृति को संजोए इस प्रदर्शनी का भ्रमण किया। प्रदर्शनी में स्वतंत्रता सेनानियों का उल्लेख, कोरोना काल में अभाविप का कार्य, संविधान सभा की चर्चाएँ आदि को प्रदर्शनी में शामिल किया गया है। उसके अतिरिक्त अभाविप की देश भर की गतिविधि, आयाम एवं कार्यों का उल्लेख भी प्रदर्शनी में है।

केन्द्रीय कार्यसमिति बैठक में मंचासीन अभाविप राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी, अध्यक्ष डॉ. सी.एन. पटेल और संगठन मंत्री आशीष चौहान

गुरुवार को केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक भी सम्पन्न हुई जिसमें पूर्व में हुए कार्यो की समीक्षा व नवीन प्रस्तावों पर विचार विमर्श किया गया। यह प्रस्ताव अधिवेशन में प्रतिनिधियों के समक्ष रखे जाएंगे जो सुझावों को शामिल करने के उपरांत पारित होंगे। ध्यातव्य हो कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का अधिवेशन 24 दिसम्बर की शाम 4 बजे आरम्भ होने जा रहा है जिसमे नोबल शांति पुरस्कार से सम्मानित कैलाश सत्यार्थी जी मुख्य अतिथि होंगे।

प्रदर्शनी का अवलोकन करते

प्रदर्शनी उदघाटन के दौरान अभाविप की राष्ट्रीय उपाध्यक्षा श्रीमती मनु कटारिया ने कहा कि “ युवाओं के महासंगम का भव्य शुभारम्भ कल शाम से होगा। आज केंद्रीय कार्यसमिति ने सभी विषयों पर चर्चा की एवं अधिवेशन की रूप रेखा भी तय की। वीरगति प्राप्त रमन बक्शी को समर्पित प्रदर्शनी अभाविप के देश भर के कार्य का सुंदर उल्लेख कर रही है। मैं जबलपुर महानगर के नागरिकों को प्रदर्शनी को देखने के लिए आमंत्रित करती हूं।”

READ  #66ABVPConf : हम शक्ति की अराधना विजय के लिए नहीं बल्कि निर्बलों की सुरक्षा के लिए करते हैं – भय्या जी जोशी

कार्यक्रम में उपस्थित मल्लिका बनर्जी नड्डा जी ने कहा “जिन विषयों को लेकर के हम विद्यार्थी परिषद् में नारा लगाते थे वे अब साकार होते दीखते है। चाहे धरा 370 हटना हो या राम मंदिर निर्माण की बात, भारत प्रगतिशील रास्ते पर अग्रसर है। शिव प्रसाद कोष्ठा जी ने कहा की “समाज के जो गरीब बच्चे हैं उनको तकनीक और शोध जैसे विशिष्ट शिक्षा दिलाने में सबको आगे आना चाहिए”

×
shares