e-Magazine

पिछले 10 डूसू चुनावों में 40 पदों में से 29 पदों पर जीती एबीवीपी, 72 प्रतिशत से अधिक रहा एबीवीपी का रिजल्ट

छात्रशक्ति डेस्क

2010 से 2019 के बीच में दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव एवं संयुक्त-सचिव के कुल 40 पदों पर हुए चुनावों में 29 पदों पर एबीवीपी ने जीत दर्ज की है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दिल्ली की प्रदेश छात्रा प्रमुख शिवांगी खरवाल ने कहा कि,” सन् 2014 से 2019 के बीच में हुए डूसू छात्रसंघ चुनावों में जिन छात्राओं ने जीत दर्ज की है, वह अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से संबद्ध हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय को वास्तविक महिला नेतृत्व देने का काम एबीवीपी ने ही किया है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दिल्ली के प्रांत मंत्री हर्ष अत्री ने कहा कि,”एबीवीपी हमेशा डीयू के छात्रों की आवाज बनी है। वर्तमान में 90% से अधिक छात्र डीयू में नए हैं, एबीवीपी उनसे अपील करती है कि वह अपने मताधिकार का प्रयोग जरूर करें। एबीवीपी का अब तक का प्रचार बहुत पॉजिटिव रहा है, छात्रों से व्यापक चर्चा के बाद तैयार हुए एबीवीपी मैनिफेस्टो में डीयू के इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास, परीक्षाओं से संबंधित समस्याओं को दूर करने तथा मेंटल हेल्थ जैसे विषय प्रमुखता से शामिल हैं। एबीवीपी छात्रों से मुद्दों के आधार पर डूसू प्रतिनिधि को चुनने की अपील करती है।”

READ  भारत – पाक सीमा पर तैनात जवानों के साथ अभाविप कार्यकर्ताओं ने मनाई दीपावली
×
shares