e-Magazine

अभाविप की गतिविधि “विकासार्थ विद्यार्थी” माघ मेला में उठाएगी पर्यावरण संरक्षण सहित प्रबंधन का जिम्मा

छात्रशक्ति डेस्क

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की गतिविधि “विकासार्थ विद्यार्थी” द्वारा “माघ मेला 2024” के दौरान समाज में पर्यावरण संरक्षण की अलख जगाने एवं विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन हेतु वृहद रूपरेखा तैयार की गई है। आज प्रेस वार्ता में विकासार्थ विद्यार्थी एवं अभाविप की गतिविधि एवं आयामों द्वारा आयोजित किए जाने वाले आगामी कार्यक्रमों के विषय में जानकारी दी गई। विद्यार्थियों के लिए इंटर्नशिप, नदी संवाद, दीपोत्सव, सांस्कृतिक संध्या, मानव श्रृंखला, नुक्कड़ नाटक, सरस्वती पूजा, स्वास्थ्य शिविर, आदि कार्यक्रमों के आयोजन की घोषणा की गई एवं कार्यक्रम संबंधी विस्तृत जानकारी को साझा किया गया।

इंटर्नशिप से प्रकृति संरक्षण का गुर सीखेंगे विद्यार्थी

इविवि के छात्र व विकासार्थ विद्यार्थी प्रयागराज के संयोजक आलोक प्रताप सिंह ने बताया कि दो-चरणों में इंटर्नशिप कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इस इंटर्नशिप कार्यक्रम में विद्यार्थियों को पर्यावरण संरक्षण के विभिन्न पहलुओं को समझाया जाएगा एवं माघ मेला क्षेत्र में 15 दिनों तक पर्यावरण संरक्षण हेतु कार्य करेंगे। इंटर्नशिप का प्रथम चरण जनवरी 15 तक चलाया जाएगा तथा दूसरा चरण 16 जनवरी से प्रारंभ होगा।

जल संरक्षण हेतु प्रेरित करेगा “नदी संवाद” कार्यक्रम

20 जनवरी को विकासार्थ विद्यार्थी के तत्वाधान में “नदी संवाद” कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें पर्यावरण विशेषज्ञों को बुलाया जाएगा तथा संवाद के माध्यम से जल संरक्षण की महत्ता पर चर्चा की जाएगी एवं नदियों की उपयोगिता बताई जाएगा।

श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा के दिन दीपों से जगमगाएगा संगम

विकासार्थ विद्यार्थी द्वारा श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा के दिन दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। 21 जनवरी की संध्या को 50 हज़ार दीपक कल्पवासियों को वितरित किए जाएंगे और उनसे आग्रह किया जाएगा कि उन दीपकों को अपने शिविर में संध्या को जलाएं। कुछ स्थान चिन्हित कर विद्यार्थियों द्वारा भी दीपोत्सव कार्यक्रम मनाया जाएगा।

READ  जबलपुर में होगा अभाविप का 67 वां राष्ट्रीय अधिवेशन

भारतीय परंपरा से परिपूर्ण होगी “सांस्कृतिक संध्या”

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की गतिविधि राष्ट्रीय कालामंच द्वारा 28 जनवरी को सांस्कृतिक संध्या एवं 2 फरवरी को नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया जाएगा, जिसमें छात्र-छात्राओं द्वारा भारतीय परंपरा को लेकर विभिन्न प्रस्तुति की जाएगी।

प्रत्येक रविवार लगाया जाएगा “स्वास्थ्य शिविर”

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के आयाम मेडिविजन द्वारा प्रत्येक रविवार माघ-मेला परिक्षेत्र में स्वास्थ्य शिविर लगाया जाएगा, जिसके माध्यम से नि:शुल्क चिकित्सा सेवाओं को प्रदान किया जाएगा।

विद्यार्थी करेंगे आगंतुकों की राह आसान

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की गतिविधि सेवार्थ विद्यार्थी द्वारा माघ मेला परिक्षेत्र में आए लोगों की सहायता हेतु “मे आई हेल्प यू” डेस्क लगाया जाएगा, जिसके माध्यम से उन्हें माघ मेला परिक्षेत्र के विषय में जानकारी दी जाएगी। प्रत्येक प्रमुख स्नानों के दिन खिचड़ी एवं चाय का वितरण किया जाएगा तथा बस्तियों में वस्त्र वितरण की योजना भी तैयार की गई है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद विकासार्थ विद्यार्थी के प्रांत प्रमुख राम बाबू तिवारी ने कहा कि,” विद्यार्थी समुदाय को पुनर्निर्माण में लगाने का राष्ट्रीय प्रयास का यह विचार विकासार्थ विद्यार्थी के कार्य का मूल आधार है। विकासार्थ विद्यार्थी की अवधारणा जल, जंगल, जमीन, जानवर व जन के उद्देश्य पर केंद्रित है। प्रयागराज की इस पावन धरा पर माघ मेला का भव्य आयोजन प्रत्येक वर्ष होता आया है, इस वर्ष विद्यार्थियों द्वारा पर्यावरण संरक्षण का यह अभिनव प्रयोग किया जाएगा जिससे भविष्य में सकारात्मक परिवर्तन नज़र आएंगे।”

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी प्रांत की प्रांत सह-मंत्री आंचल सिंह ने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की तीन-गतिविधि एवं दो-आयामों द्वारा आगामी कार्ययोजना को पूर्ण किया जाएगा। अभाविप की गतिविधि “विकासार्थ विद्यार्थी”, “राष्ट्रीय कला मंच” एवं “सेवार्थ विद्यार्थी” द्वारा अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा, वहीं अभाविप के आयाम “थिंक इंडिया” एवं “मेडिविजन” के द्वारा जागरूकता अभियान तथा स्वास्थ्य शिविर को लगाया जाएगा। विद्यार्थियों द्वारा यह अनोखी पहल मील का पत्थर साबित होगी एवं मॉडल के रूप में प्रत्येक वर्ष ऐसे आयोजन किए जाएंगे।”

×
shares