e-Magazine

#Justice4Sandeshkhali : कानपुर में ममता सरकार के खिलाफ प्रर्दशन, अभाविप ने की शाहजहां शेख को फांसी देने की मांग

छात्रशक्ति डेस्क

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कानपुर महानगर द्वारा पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में महिलाओं के साथ हुए यौन शौषण के विरोध में ममता सरकार के खिलाफ सीएसजेएम यूनिवर्सिटी में आंदोलन किया । इस अवसर पर राष्ट्रपति के नाम को संबोधित ज्ञापन प्रांत मंत्री शिवा राजे बुंदेला, गोपाल मिश्रा, दिग्विजय, मयंक,, कौशय द्वारा एसडीएम को सौंपा गया।

प्रांत मंत्री शिवाराजे बुंदेला ने कहा कि शाहजहां शेख को फांसी दी जानी चाहिए। वह मौत की सजा से कम का हकदार नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि इलाके में हिंदू महिलाओं को निशाना बनाया गया। उन्होंने बोला की ममता सरकार क्रूरता और निर्ममता का उदाहरण बनती जा रही है। महानगर मंत्री मयंक ने बोला कि सत्ता के नशे में चूर ममता सरकार के दिन पूरे हो गए हैं और अभाविप के कार्यकर्ता महिलाओं के सम्मान में सभी आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग करती है कॉलेज इकाई अध्यक्ष कौशेय ने बताया कि संदेशखाली में प्रताड़ित हर एक महिला के साथ पूरा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का परिवार पूरी ताकत के साथ खड़ा है ।

प्रांत सह मंत्री दिग्विजय सिंह ने अमानवीय कृत्यों की निंदा करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं और जब ममता बनर्जी कुर्सी पर हैं तो वे स्वतंत्र रूप से घूमने और शांतिपूर्ण माहौल में अपनी रोजमर्रा की गतिविधियों को करने में असुरक्षित महसूस करती हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में एक महिला मुख्यमंत्री हैं लेकिन दुर्भाग्य से वहां महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं।इस अवसर पर आदित्य, आकाश,सुहानी, आशुतोष,अभिषेक,प्रभात,दिव्यांशु,सानुज,सुधांशु,वैभव,अमित, अंजु, आदि जन उपस्थित रहे

READ  #65ABVPConf : सागर रेड्डी को मिला प्रा. यशवंतराव केलकर युवा पुरस्कार
×
shares