e-Magazine

गोरखपुर : डॉ. अंबेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर अभाविप द्वारा संगोष्ठी का आयोजन

छात्रशक्ति डेस्क

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) गोरखपुर महानगर इकाई के कार्यकर्ताओं द्वारा डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज में संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

संगोष्ठी को संबोधित करते हुए महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. अरुण सिंह ने कहा कि डॉo भीमराव आंबेडकर ने देश में व्यापत छुआ- छूत को मिटाने के लिए तमाम संघर्ष किये। समाज के वंचित वर्गों को मुख्यधारा में लाने के लिए किया गया उनका संघर्ष हर पीढ़ी के लिए एक मिसाल बना रहेगा। डॉ० आंबेडकर पूरी दुनिया में अपने त्याग, समर्पण, मानवतावादी दृष्टिकोण, शोषितों के मसीहा, शिक्षा, संगठन और संघर्ष की बदौलत जाने जाते हैं। देश के गरीब, शोषित, वंचित तथा उपेक्षित समाज के प्रति उनके त्याग को कभी भुलाया नहीं जा सकता।

अभाविप गोरक्ष प्रांत मंत्री मयंक राय ने कहा कि महापुरुषों के विचारों को लेकर अभाविप की हुई है, डॉo भीमराव अम्बेडकर ने समता मूलक समाज की स्थापना की वह आजीवन समाज में व्याप्त भेदभाव और अस्पृश्यता के खिलाफ लड़ते रहे। भारतीय लोकतंत्र में अंबेडकर का योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। डॉ. आंबेडकर की अद्वितीय प्रतिभा अनुकरणीय है। वे एक मनीषी, योद्धा, नायक, विद्वान, दार्शनिक, वैज्ञानिक, समाजसेवी एवं धैर्यवान व्यक्तित्व के धनी थे। वे अनन्य कोटि के नेता थे, जिन्होंने अपना समस्त जीवन समग्र भारत की कल्याण कामना में उत्सर्ग कर दिया।

कार्यक्रम का आभार ज्ञापन अभाविप गोरखपुर महानगर अध्यक्ष डॉ. विवेक शाही तथा संचालन महानगर मंत्री शुभम गोविंद राव ने किया। इसके साथ ही साथ गोरखपुर महानगर मे डॉ. भीमराव अम्बेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर गोरखपुर विश्वविद्यालय में माल्यार्पण, अंबेडकर चौक पर प्रतिमा की साफ सफाई सहित दर्जनों स्थानों विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

READ  Yeshwantrao Kelkar Youth Award to Recognize Outstanding Contributions in Social Service, Environment and Education Sector
×
shares