e-Magazine

अभाविप का डीटीसी के विरुद्ध प्रदर्शन, दिल्ली में बढ़ रही बस दुर्घटना पर अंकुश लगाने की मांग

दिल्ली में बढ़ रही बस दुर्घटना पर रोक लगाने की मांग को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को दिल्ली परिवहन निगम मुख्यालय के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया और निगम के प्रबंध निदेशक को ज्ञापन सौंपकर दुर्घटनाओं पर रोक लगाने एवं यातायात संबंधित नियमों का दृढ़ता से पालन कराने की मांग की। अभाविप द्वारा आयोजित इस विरोध प्रदर्शन में दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्र संघ सचिव अपराजिता, सह -सचिव सचिन बैसला समेत बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।

दिल्ली परिवहन निगम मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन करते अभाविप कार्यकर्ता
दिल्ली परिवहन निगम मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन करते अभाविप कार्यकर्ता

अभाविप दिल्ली प्रांत के मंत्री हर्ष अत्री ने कहा कि दिल्ली की सड़कों पर डीटीसी बसों द्वारा दुघर्टनाओं की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। उन्होंने कहा कि बुधवार को दिल्ली विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन के समीप एक व्यक्ति की मृत्यु डीटीसी बस द्वारा कुचले जाने के कारण हो गई। इस दुर्घटना का कारण डीटीसी बस चालक द्वारा बस को लेन से अलग चलाना था। बस चालक द्वारा यातायात नियमों दृढ़तापूर्वक पालन न करने के कारण ऐसी दुखद घटना सामने उभर कर हम सबके सामने आई। अभाविप द्वारा बढ़ती बस दुर्घटना पर अंकुश लगाने की मांग को लेकर आज दिल्ली परिवहन निगम मुख्यालय पर प्रदर्शन किया गया और इस पर तत्काल कदम उठाने की मांग की गई है । इस दौरान हमने डीटीसी प्रबंधक को छह सूत्रीय ज्ञापन भी सौंपा है।

अभाविप ने दिल्ली परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक को सौंपा छह सूत्रीय ज्ञापन

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने दिल्ली में बढ़ रहे बस दुर्घटनाओं पर रोक लगाने संबंधित डीटीसी के प्रबंध निदेशक को छह सूत्रीय ज्ञाप सौंपकर तत्काल कदम उठाने की मांग की है। अभाविप ने अपने ज्ञापन में बसों को अपने निर्धारित लेन में चलने की सुनिश्चितता करने, बसों का ठहराव सिर्फ बस स्टैंड पर हो यह सुनिश्चित करने, बस ड्राइवरों की नियमित काउंसलिंग की व्यवस्था करने,बस ड्राइवरों के मासिक वेतन को नियमित करने, मृतक के परिवार को पर्याप्त मुआवजा देने एवं दिल्ली परिवहन निगम को बसों के द्वारा कुचले जाने या रौंदे जाने वाले मृतकों के परिवार को मुआवजे की व्यवस्था करने जैसी मांगों को सम्मिलित किया।

READ  श्रीअन्न के उत्पादन में भारत की वैश्विक नेतृत्वकारी भूमिका के लिए युवा आएं आगे: कृषि राज्यमंत्री

 

×
shares