e-Magazine

नहीं रहे अभाविप के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो. रामस्नेही गुप्त, कार्यकर्ताओं ने दी श्रद्धांजलि

छात्रशक्ति डेस्क

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रामस्नेही गुप्त का निधन बुधवार को फिरोजाबाद स्थित उनके घर पर हो गया। प्रो. गुप्त 89 वर्ष के थे, बताया जाता है कि  दो-तीन वर्ष से वे लगातार बिमार चल रहे थे। प्रो. गुप्त के निधन की खबर सुनते ही अभाविप कार्यकर्ताओं में शोक की लहर दौड़ गई। बता दें कि प्रो. रामस्नेही गुप्त 1989 में अभाविप के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। उनका जन्म 01/05/1933 को हुआ था। 1962 से 1993 तक वे सी.एल जैन महाविद्यालय में सेवारत रहे। इस दौरान वे गणित के विभाग अध्यक्ष और प्राचार्य भी रहे। इससे पूर्व प्रो. गुप्त रोहतक (हरियाणा) गणित के प्राध्यापक रहे। सेवा अवधि में दो वर्ष नाइजीरिया में शिक्षा अधिकारी के पद पर कार्य किया।

आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की लड़ाई में प्रो. रामस्नेही गुप्त की महत्ती भूमिका थी। इस दौरान उन्हें जेल भी जाना पड़ा था। राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के विभाग कार्यवाह से लेकर संपर्क प्रमुख (पश्चिमी उत्तर प्रदेश) तक दायित्व का भी उन्होंने निर्वहन किया। अपने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के निधन से देशभर के अभाविप कार्यकर्ता दुखी हैं, उन्हें श्रद्धाजंलि अर्पित कर रहे हैं।

 

READ   कोरोना महामारी - चुनौती के साथ सुअवसर
×
shares