e-Magazine

जोधपुर रेप पीड़िता के लिए अभाविप ने मांगा न्याय, पुलिस ने बरसाये लाठी, दर्जन भर कार्यकर्ताओं के सर फूटे

छात्रशक्ति डेस्क

जयपुर : जोधपुर गैंगरेप पीड़िता को न्याय दिलाने की मांग को लेकर राजस्थान विश्वविद्यालय(आरयू) परिसर के मुख्य द्वार पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने आज जोरदार प्रदर्शन किया। इस दौरान आरयू पर धरना दे रहे कार्यकर्ताओं ने अंदर घुसने की कोशिश की, थोड़ी देर में मामला बढ़ गया देखते ही देखते पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज कर दिया, जिसमें अभाविप राष्ट्रीय मंत्री हुश्यार सिंह मीणा समेत कई कार्यकर्ता बुरी तरह घायल हो गए। बताया जाता है कि दर्जन से अधिक कार्यकर्ताओं के सर फूट गए।

अभाविप ने बताया कि राजस्थान में लगातार बढ़ते हुए महिलाओं के प्रति अपराध पिछले 7 दिन में 10 से अधिक छात्राओं व महिलाओं का गैंग रेप व हत्या के केस सामने आए हैं। इसको लेकर आज राजस्थान विश्वविद्याल, जयपुर में हजारों की संख्या में परिषद कार्यकर्ता सड़कों पर उतर कर आक्रोश व्यक्त कर रहे थे, जब कार्यकर्ता जेएलएन मार्ग पर गए तो राजस्थान पुलिस ने तानाशाही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के इशारे पर पुलिस में बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज किया। इस लाठीचार्ज के दौरान पुलिस ने दर्जनों कार्यकर्ताओं के सिर फोड़े पांव तोड़े हाथ तोड़े। ऐसा पुलिस का रवैया इतिहास में कभी नहीं रहा न्याय मांगते छात्रों पर पुलिस का ऐसा बर्ताव सरकार के इशारों पर कहीं ना कहीं दोषियों को बढ़ावा देता है। यह पुलिस इतनी ही सक्षम है तो आज तक अपराधियों को क्यों नहीं पकड़ पायी।

लाठी चार्ज में घायल हुए अभाविप जयपुर प्रांत मंत्री शोर्य जैमन ने कहा पुलिस की लाठी से विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता दबने वाले नहीं है। महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए विद्यार्थी परिषद आगे रहती है। जोधपुर विवि की घटना को लेकर यहां विरोध प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने लाठियां चलाई, पत्थर फेंके हैं। 5 से 7 कार्यकर्ता अस्पताल में है, और करीब 8 कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले रखा है। जब तक पीड़ितों को न्याय नहीं मिलता और अपराधी सलाखों के पीछे नहीं जाते विद्यार्थी परिषद का आंदोलन ऐसे ही चलता रहेगा आने वाले समय में परिषद का आंदोलन बड़ा भीषण होगा। उन्होंने बताया कि जोधपुर डीसीपी की ओर से अभाविप पर जो आरोप लगाए गए, बेबुनियाद है। ऐसे में डीसीपी को बर्खास्त करने और आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया था। लेकिन यहां पुलिस प्रशासन ने विरोध प्रदर्शन करने वाले छात्रों पर ही लाठी चलाई।

READ  ABVP's Bhagyanagar rally witnessed thousands of students gathering unitedly called for the development of Telangana

अभाविप जयपुर महानगर के विभाग संयोजक राजेंद्र ने बताया अभाविप के 15 से अधिक कार्यकर्ता घायल हुए जिनमें से छह के सिर में गंभीर चोट आई है बाकी लोगों के पांव वहां टूट गए हैं इस हिंसा का जयपुर घोर विरोध करती हैं। अभाविप राजस्थान विश्वविद्यालय के इकाई मंत्री रोहित मीणा ने बताया जब निर्दोष छात्र न्याय मांग रहे थे उन पर लाठी चार्ज करना कहां तक जायज है?  पिछले 10 दिनों में 15 से अधिक बलात्कार की घटनाएं होना राजस्थान के लिए शर्मसार है।  पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज का अभाविप पुरजोर विरोध करती है मैं पुलिस के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करती है। आने वाले समय में वर्तमान राजस्थान सरकार उनकी मिलीभगत में काम करने वाले राजस्थान पुलिस को करारा जवाब अभाविप देगी।

 

 

×
shares