e-Magazine

अमृत महोत्सवी वर्ष में पूर्वोत्तर अध्ययन यात्रा का आयोजन करेगी अभाविप

शिलांग में चल रहे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की दो दिवसीय राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक का समापन 2 अक्टूबर को किया गया। बैठक में अभाविप के अमृत महोत्सवी वर्ष पर पूर्वोत्तर अध्ययन यात्रा के आयोजन किए जाने की घोषणा की गई। दो दिन तक चले इस बैठक में दिल्ली में होने वाले विद्यार्थी परिषद के 69 वें राष्ट्रीय अधिवेशन के लोगो का भी विमोचन किया गया।
अजीत कुमार सिंह

मेघालय की राजधानी शिलांग में आयोजित अखिल भारतीय विदयार्थी परिषद की दो दिवसीय राष्ट्रीय पदाधिकारी व केंद्रीय टीम बैठक का समापन 2 अक्टूबर को किया गया किया। इस दो दिवसीय बैठक में सांगठनिक, समसामयिक, शैक्षिक जगत में हो रहे परिवर्तन सहित दिल्ली में होने वाले अभाविप अमृत महोत्सवी अधिवेशन को सफल-सार्थक बनाने पर मंथन किया गया।  जानकारी के मुताबिक बैठक में इसके अतिरिक्त रानी दुर्गावती जयंती, अकादमिक जगत से संबंधित विभिन्न मुद्दे, अभाविप के माध्यम से पर्यावरण, सेवा जैसे क्षेत्रों में युवाओं की सक्रियता को बढ़ाने आदि विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई एवं  69 वें राष्ट्रीय अधिवेशन के ‘लोगो’ का विमोचन भी किया गया।

दिल्ली में आयोजित होने वाले अभाविप के 69 वें राष्ट्रीय अधिवेशन के लोगो का विमोचन करते (बाएं से) अभाविप राष्ट्रीय मंत्री अंकिता पवार, संगठन मंत्री आशीष चौहान, उपाध्यक्ष पूनम सिंह, महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल एवं केन्द्रीय कार्यसमिति सदस्य निधि त्रिपाठी

नवंबर में होगा पूर्वोत्तर अध्ययन यात्रा का आयोजन

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने अपनी शिलांग बैठक में आगामी नवंबर माह में ‘पूर्वोत्तर अध्ययन यात्रा’ का आयोजन करने की घोषणा की है। अभाविप के ‘अमृत महोत्सवी वर्ष’ के उपलक्ष्य में यह ‘पूर्वोत्तर अध्ययन यात्रा’ देश के विभिन्न क्षेत्रों के 75 छात्र-छात्राओं को पूर्वोत्तर के राज्यों का भ्रमण कराएगी, इस यात्रा का उद्देश्य है कि पूर्वोत्तर भारत की समृद्ध संस्कृति तथा उदात्त जीवन मूल्यों से देश के विद्यार्थी परिचित हो सकें। अभाविप की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूनम सिंह ने कहा कि  पूर्वोत्तर भारत के राज्य शिक्षा के प्रमुख केन्द्र के तौर पर विकसित हो रहे हैं, यह अत्यंत शुभ संकेत है। देश का शिक्षा क्षेत्र अनेक परिवर्तनों से गुजर रहा है, पूर्वोत्तर भारत के राज्य अनेक दृष्टियों से सकारात्मक परिवर्तन में प्रमुख भागीदारी कर रहे हैं। बीते महीनों में मणिपुर में जिस तरह की हिंसा की जघन्य घटनाएं हुईं हैं,वह अत्यंत चिंताजनक है। मणिपुर में स्थिति सामान्य बनाने के लिए शीघ्रता से प्रयास करने होंगे। बैठक के दौरान  69 वें राष्ट्रीय अधिवेशन के उपलक्ष्य पर राष्ट्रीय एकात्मता, विश्व गुरु भारत, अभाविप अमृत महोत्सव, समरसता एवं स्वाधीनता के अमृत महोत्सव विषय पर प्रकाशित होने वाले स्मारिका के ब्रोशर का विमोचन भी किया गया।

READ  आईआईटी दिल्ली में बढ़ रही आत्महत्याओं पर अभाविप ने व्यक्त की चिंता, समाधान हेतु निदेशक को सौंपा ज्ञापन
अभाविप के 69 वें राष्ट्रीय अधिवेशन के उपलक्ष्य पर सील, राष्ट्रीय छात्रशक्ति, अभाविप दिल्ली, छात्र कल्याण न्यास एवं विद्यार्थी निधि द्वारा प्रकाशित किए जाने वाले स्मारिका के ब्रोशर का विमोचन करते (बाएं से) अभाविप राष्ट्रीय मंत्री अंकिता पवार, संगठन मंत्री आशीष चौहान, उपाध्यक्ष पूनम सिंह, महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल, केन्द्रीय कार्यसमिति सदस्य निधि त्रिपाठी एवं मंत्री हुश्यार सिंह मीणा

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल ने कहा कि  हाल ही में दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में जिस प्रकार अभाविप की बड़ी जीत हुई है,वह अभाविप के विचार के प्रति युवाओं के दृढ़ होते विश्वास का प्रतीक है। अभाविप का कार्य व सक्रियता पूर्वोत्तर के विद्यार्थियों के बीच लगातार बढ़ रहा है। अंतर-राज्य छात्र जीवन दर्शन (SEIL) जैसे रचनात्मक प्रयासों द्वारा अभाविप ने सम्पूर्ण भारत की संस्कृति को समझने में पूर्वोत्तर के छात्रों का मार्ग प्रशस्त किया और अनेक पूर्वोत्तर के विद्यार्थियों की दृष्टि का विस्तार हुआ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की यह शिलांग बैठक संगठनात्मक दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है, इस बैठक में विभिन्न सामाजिक एवं अकादमिक विषयों पर गहनता से चर्चा हुई।

 

×
shares