e-Magazine

अभाविप की केंद्रीय कार्यसमिति बैठक सूरत में हुई सम्पन्न

छात्रशक्ति डेस्क

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की एक-दिवसीय केंद्रीय कार्यसमिति बैठक गुजरात के सूरत में संपन्न हुई। बैठक की शुरुआत में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. राजशरण शाही, राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल और राष्ट्रीय संगठन मंत्री आशीष चौहान ने माता सरस्वती एवं स्वामी विवेकानंद जी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित किया तथा इसके पश्चात सभी प्रतिनिधियों ने सामूहिक वंदे मातरम् गान किया। बैठक के दौरान 05 जून को ‘विश्व पर्यावरण दिवस’ के अवसर पर अभाविप केन्द्रीय कार्यसमिति सदस्यों ने पर्यावरण क्षेत्र में योगदान देने तथा पर्यावरण अनुकूल जीवनशैली अपनाने की शपथ ली।

उल्लेखनीय है कि 07 जून से 09 जून,2024 गुजरात के सूरत में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की राष्ट्रीय कार्यकारी परिषद बैठक आयोजित हो रही है, जिसमें देश के सभी राज्यों से प्रतिनिधि भाग लेंगे। इस बैठक में शिक्षा, पर्यावरण, समसामयिक विषयों पर विस्तृत चर्चा के उपरांत देशभर में विद्यार्थी परिषद की गतिविधियों की आगामी योजना की दिशा निर्धारित होगी‌।06 जून की शाम में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का नागरिक अभिनंदन कार्यक्रम आयोजित होगा, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में देश के प्रसिद्ध अभिनेता मनोज जोशी शामिल होंगे, साथ ही सूरत के गणमान्य नागरिक भी इस कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. राजशरण शाही ने केन्द्रीय कार्यसमिति बैठक के उद्घाटन सत्र में कहा कि भारत का लोकतंत्र निरंतर समृद्ध तथा सशक्त होकर पूरे विश्व को एक सकारात्मक दिशा दिखा रहा है, भारत लोकतंत्र की जननी है, इस लोकतांत्रिक व्यवस्था में नागरिकों की सक्रिय सहभागिता से देश में एक सकारात्मक वातावरण उत्पन्न हुआ है। आधुनिक भारत की सशक्तता, बंधुत्व तथा समानता जैसे श्रेष्ठ मूल्यों का मूल राष्ट्र में प्राचीन समय से रहा है, जिसे निरंतर विकसित करने की आवश्यकता है। लोकतांत्रिक मूल्यों को लोकजीवन में स्थापित करने के निरंतर महत्वपूर्ण प्रयास किए जाने चाहिए। देश में ‘स्व’ एवं ‘स्व-बोध’ आधारित व्यवस्था को आगे बढ़ाने तथा विभिन्न क्षेत्रों में भारतीय मूल्य आधारित बदलाव लाने के लिए हम सभी को मिलकर प्रयास करना होगा।

READ  केन्द्रीय वित्त सचिव की शिक्षा क्षेत्र के लिए निवेश संबंधी टिप्पणी दुर्भाग्यपूर्ण और संवेदनहीनता का सूचक: अभाविप

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल ने कहा कि वर्तमान समय भारत का स्वर्णिम दौर है, भारत लक्ष्यों की पूर्ति हेतु तेज़ी से विभिन्न क्षेत्रों में आगे बढ़ रहा है। विद्यार्थी परिषद ने देश भर के विभिन्न शैक्षिक संस्थानों में रचनात्मक एवं आंदोलनात्मक गतिविधियों द्वारा निहित समस्याओं के निदान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। शिक्षा, पर्यावरण, उद्यमिता, खेल जैसे विभिन्न महत्वपूर्ण क्षेत्रों में अभाविप के कार्यक्रमों एवं अभियानों ने युवाओं में एक परिवर्तनकारी बदलाव लाने का प्रयास किए हैं। भारत सशक्त होकर विश्व का नेतृत्व करने के लिए निरंतर आगे बढ़ रहा है।

×
shares