e-Magazine

आजादी सत्ता का हस्तांतरण नहीं शहीदों के सिर से सजा थाल है : सक्सेना

छात्रशक्ति डेस्क

दुर्ग (छत्तीसगढ़)। स्वाधीनता के 75 वे अमृत महोत्सव में मेडिविजन के द्वारा दुर्ग में  एक दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें रा.  स्व. संघ के छत्तीसगढ़ प्रांत संघचालक डॉक्टर पूर्णेन्दु सक्सेना ने मेडिकल के छात्रों को कहां की आजादी  सत्ता का हस्तांतरण नहीं हुआ है। इस आजादी को लेने के लिए 565 रियासत में कोई भी एक रियासत नहीं था जिसने शहादत ना दिया हो। यह हिंदुस्तान शहीदों के सिर से सजा हुआ थाल हैं। आप सभी लोग अपने पेशे में रहते हुए राष्ट के प्रति समर्पण और राष्ट्रवाद को जिंदा रखिए।

कई आक्रांताओं ने हमारी सभ्यता को तोड़ने की कोशिश किया मगर हमारी संस्कृति ने हम सब को जोड़कर रखा, वर्तमान समय में बहुत सारे तत्व सक्रिय हैं। अब संस्कृति को तोड़ा जा रहा है संस्कृति से अलग कर समाज से अलग करने की कोशिश में जुटे हुए हैं उन सभी अराजक सोच वाले लोगों के लिए आप एक चुनौती हो।सभ्यता और संस्कृति के लिए पूरी दुनिया में हिंदुस्तान को जाना जाता है और इसे बचाने की जिम्मेदारी आप सभी नवयुवक के कंधों पर हैं।

पारस नाथ चौधरी की रिपोर्ट

READ  MARTYRS’ DAY(Shaheed Diwas) that crowns the sacrifice of Martyrs
×
shares