e-Magazine

संपादकीय

छात्रशक्ति जनवरी 2020

अनुच्छेद 370 में संशोधन, रामजन्मभूमि पर सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के बाद जब नागरिकता संशोधन  विधेयक 2019 भी संसद द्वारा पारित हो गया तो वे सभी शक्तियाँ बेचैन हो उठीं जिनके लिये देश में शांति और एकता...

छात्रशक्ति दिसम्बर 2019

अयोध्या मामले पर आये ऐतिहासिक फैसले के बाद देश में समन्वय और सौहार्द्र का नया अध्याय प्रारंभ हुआ। 491 वर्ष पुराने संघर्ष और 1949 से जारी संवैधानिक वाद और उसके चलते बार-बार उठने वाले साम्प्रदायिक वैमनस...

छात्रशक्ति सितम्बर 2019

श्री अरुण जेटली नहीं रहे। अभाविप का एक कार्यकर्ता, जिसने अभाविप के विभिन्न दायित्वों पर रह कर संगठन को आगे बढ़ाने में योगदान किया हो, स्वतंत्र भारत के लोकतांत्रिक इतिहास के सबसे कठिन दौर में संगठन का...

छात्रशक्ति अगस्त 2019

एक कुहासा मिट गया है। अनुच्छेद 370 का जो लौह आवरण जम्मू कश्मीर को घेरे था वह अब नहीं रहा। जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, अब यह बार-बार नहीं दोहराना होगा। कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत एक है, अब य...

संपादकीय : जून 2019

अभी चुनाव की मतगणना चल ही रही थी कि एक वयोवृद्ध प्राध्यपक का फोन आया। वे मतगणना के रुझान से गदगद थे और अपनी प्रसन्नता को संभाल नहीं पा रहे थे। भावावेश में उन्होंने कहा – भारत ने एक हजार वर्ष बाद अपने...

छात्रशक्ति मई 2019 संपादकीय

देश में चुनाव का वातावरण है। विभिन्न राजनैतिक दल अपनी-अपनी जीत के लिये सारे उपाय आजमा रहे हैं। दौड़ में खुद को आगे निकालने से ज्यादा कोशिश इस बात की है कि प्रतिपक्षी कैसे पीछे रहे। इसके लिये सही-गलत औ...

×